Monthly Archives: अगस्त 2018

वंश वृद्धि

“किस तरह की माँ है ये ?” अखबार को टेबल पर रखते ही मेरे मुँह से आह निकली . नारी जननी से भक्षक कैसे बन सकती है? मेरे मन को ये सवाल लगातार कचोट रहा था। “क्या हुआ बहु जी … पढना जारी रखे

कहानी में प्रकाशित किया गया | 3 टिप्पणियाँ